रसायन विज्ञान नोट्स

सीसा Lead

सीसा का निष्कर्षण: सीसा का निष्कर्षण मुख्यत: उसके अयस्क गैलना (Pbs) से किया जाता है। सीसा सर्वाधिक स्थायी तत्व है। यह एक ऐसा तत्व है जिससे कागज पर लिखने का काम लिया जाता है।

सीसा के भौतिक गुण: यह एक मुलायम नीलापन लिये भूरा धातु है। इसमें धातुई चमक पायी जाती है। यह कागज पर निशान छोड़ता है। यह एक भारी धातु है। इसका घनत्व 11.34, द्रवणांक -327.4°C तथा क्वथनांक 1620°C होता है। यह ताप और विद्युत् का कुचालक होता है। यह एक उभयधर्मी धातु है।

सीसा के रासायनिक गुण: यह शुष्क वायु से कोई प्रतिक्रिया नहीं करता है। यह आर्द्र वायु के साथ प्रतिक्रिया कर पहले हाइड्रॉक्साइड का और फिर कार्बोनेट का परत बनाता है। यह वायु की उपस्थिति में गर्म करने पर लेड ऑक्साइड तथा लाल लेड बनता है। यह जल के साथ प्रतिक्रि या कर लेड हाइड्रॉक्साइड बनाता है। यह तनु HCl के साथ प्रतिक्रिया कर हाइड्रोजन गैस मुक्त करता है। यह सान्द्र सल्फ्यूरिक अम्ल के साथ गर्म करने पर SO2 गैस बाहर निकालता है। यह तनु नाइट्रिक अम्ल के साथ प्रतिक्रिया कर नाइट्रिक ऑक्साइड गैस बाहर निकालता है। यह सान्द्र नाइट्रिक अम्ल के साथ प्रतिक्रिया कर NO2 का भूरा धुआँ निकालता है।

सीसा के उपयोग: (1) मिश्रधातुओं के निर्माण में (ii) लेड चेम्बर बनाने में (iii) लेड पाइप के निर्माण में (iv) लेड-आर्सेनिक मिश्रधातु का उपयोग गोली (Bullet) बनाने में (v) नाभिकीय अनुसंधानों में (vi) कार्बन सीसा (Carbon-Lead) का उपयोग कृत्रिम अंगों के निर्माण में।

सीसा के योगिक

  1. लेड ऑक्साइड (Lead Oxide): इसे लिथार्ज कहा जाता है। यह एक उभयधर्मी ऑक्साइड है। इसका उपयोग रबड़ उद्योग में, स्टोरेज बैटरी के निर्माण में तथा फिलण्ट कांच बनाने में होता है।
  2. लेड डाइऑक्साइड (Lead Dioxide): इसका उपयोग दियासलाई निर्माण में होता है।
  3. लाल लेड (Red-Lead): ट्राइ प्लम्बिक टेट्राऑक्साइड (Pb3O3) को लाल लेड (Red Lead) कहा जाता है। इसका उपयोग लाल पेन्ट बनाने में, फिलण्ट कांच तथा लाल लेड सीमेण्ट निर्माण में होता है।
  4. लेड एसीटेट (Lead Acetate): इसे Sugar of Lead कहा जाता है। इसे Inorganic sugar भी कहते हैं। लेड एसीटेट पेपर का उपयोग H2S गैस की उपस्थिति की जाँच हेतु किया जाता है।
  5. ह्वाइट लेड (White Lead): बेसिक लेड कार्बोनेट को ह्वाइट लेड कहा जाता है। इसे सफेदा के नाम से भी जाना जाता है।
  6. लेड टेट्राइथाइल (TEL): इसका उपयोग अपस्फोटन रोकने हेतु किया जाता है।

लेड (सीसा) के मिश्रधातु

टाइप मेटलType MetalPb (75%), Sb (20%) तथा Sn (6%)
सोल्डरSolderSn (50 – 70%) तथा Рb (50 — 30%)
प्यूटरPewterSn (75%) तथा Pb (25%)

नोट:

  • विद्युत् उपकरणों में प्रयुक्त होने वाला फ्यूजतार लेड और टिन से बना मिश्रधातु होता है।
  • राजस्थान स्थित जावर खान, सीसा-जस्ता के खनन के लिए प्रसिद्ध है।
  • लेड-पाइप पीने के जल को ले जाने के लिये उपयुक्त नहीं होते हैं, क्योंकि ये वायु मिश्चित जल के साथ घुलकर विषैले लेड हाइड्रॉक्साइड [Pb(OH)2] उत्पन्न करते हैं।

हमारे बारें में

एग्जाम टॉपर क्लास टीम

My Name is Jitendra Singh (Rana) और मैं एक सफल शिक्षक बनने की तैयारी कर रहा हूं ! और मैं लखनऊ, उत्तर प्रदेश (भारत) से हूँ।
मेरा उद्देश्य हिन्दी माध्यम में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले प्रतिभागियों का सहयोग करना है ! आप सभी लोगों का स्नेह प्राप्त करना तथा अपने अर्जित अनुभवों तथा ज्ञान को वितरित करके आप लोगों की सेवा करना ही मेरी उत्कृष्ट अभिलाषा है !!
दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट/विडियो/क्लास अच्छी लगी हो तो इसे Share अवश्य करें ! कृपया कमेंट के माध्यम से बताऐं कि ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !

Leave a Comment